एक व्यक्ति ने बुद्ध से पूछा की मेरे अंदर बहुत सारी गलत आदते है मै क्या करू – गौतम बुद्ध

एक व्यक्ति ने बुद्ध से पूछा की मेरे अंदर बहुत सारी गलत आदते है मै क्या करू – गौतम बुद्ध 

एक बार गौतम बुद्ध अपने कुछ भिक्षुओ के साथ एक गांव से गुजर रहे होते है। उस गांव का एक युवक बुद्ध को देखकर उसके पास आता है। और बुद्ध के चरणों में गिर पड़ता है। बुद्ध उसको उठाते है और पूछते है की क्या हुआ। तुम इतने परेशान क्यों हो।

एक व्यक्ति ने बुद्ध से पूछा की मेरे अंदर बहुत सारी गलत आदते है मै क्या करू - गौतम बुद्ध
एक व्यक्ति ने बुद्ध से पूछा की मेरे अंदर बहुत सारी गलत आदते है मै क्या करू – गौतम बुद्ध 

वह युवक बुद्ध से कहता है की बुद्ध मै अपने जीवन से बहुत तंग आ गया हूँ। मुझे खुद से और इस जीवन से घृणा होने लगी है। मुझे कुछ् भी समझ में नहीं आ रहा है की मै क्या करू। बुद्ध उस व्यक्ति से कहते है की तुम्हारी इन समस्याओ का कारण क्या है।

वह युवक गौतम बुद्ध से कहता है बुद्ध मेरे अंदर बहुत सारी बुरी आदतें है। मै एक बहुत बुरा इंसान हूँ। बुद्ध कहते है क्या बुरी आदतें है तुझमे। वह व्यक्ति गौतम बुद्ध से कहता है की बुद्ध मेरे भीतर इतनी बुरी आदतें है  जिनका मै व्याख्यान नहीं कर सकता।

अपने जीवन में बदलाव कैसे लाएं, जिससे हर कष्टों से मुक्त हो जाए – गौतम बुद्ध

जैसे की लालच, शराब पीना, दुसरो के बारे में गलत सोचना और हर समय भोग विलास के बारे में सोचना। मेरे दिमाग में हर समय वो बातें चलती रहती है। जिनसे मुझे आज तक संतुष्टि नहीं मिली है। कभी कभी तो मै ये समझ ही नहीं पाता की मै इन्सान हूँ या फिर जानवर।

बुद्ध मै आपके पास अपनी समस्याए लेकर आया हूँ क्योकि मै जानता हूँ की मेरी हर समस्या है समाधान आपके पास है। बुद्ध कृपा करके मेरी समस्याओ का समाधान कीजिये। बुद्ध उस युवक से कहते है की मै तुमसे जो भी कहूंगा वो तुम समझ नहीं पाओगे।

अपने आत्मविश्वास शक्ति को कैसे बढ़ाएं | आत्म विश्वास की अद्भुत शक्ति

इसलिए मै तुम्हे एक छोटी सी घटना बताता हूँ एक बार एक राजा का बेटा एक संत के पास जाता है। और संत से कहता है मुनिवर मै अपने जीवन से हार चूका हूँ। मैंने अपने जीवन में हर चीज का आनंद लिया। मेरे पास धन की कोई कमी नहीं है मेरे पास राजपाठ है।

और लोग मुझे आदर सम्मान देते है लेकिन मै हमेशा से ही भोगविलास में लिप्त रहा हूँ। पर कहीं ना कहीं मेरे भीतर एक खालीपन है। मै चाहता हूँ की कैसे भी मै उस खालीपन को भर लू। और तो और हर जगह मैंने ढूंढ लिया है अब एक आस मेरे अंदर जो बची है वो तुम हो। मुनिवरआप मेरा मार्गदर्शन करे।

मै जीवन को जानना चाहता हूँ। मै सब मोह माया को छोड़ना चाहता हूँ। कृपा कर मेरा मार्गदर्शन करे। संत उस व्यक्ति से कहते है की वो सब तो ठीक है तुम सब मोह माया को छोड़ आये हो। परन्तु मुझे ये बताओ की तूम्हारे पास जो पोटली है उसमे क्या है।

आपका विश्वास ही आपका भाग्य निर्धारित करता है। – गौतम बुद्ध

उस व्यक्ति के पास एक पोटली होती है जिसमे बहुत सारी सोने की मोहरे होती है। वह व्यक्ति उस संत से कहता है की मुनिवर इस पोटली में सोने की मोहरे है। ये मोहरे मै अपने साथ इसलिए लाया हूँ की अगर मेरे जीवन में बुरा समय आये तो मै उस समय इनका उपयोग करू।

संत उस व्यक्ति से कहते है की पहले आप इस पोटली को उठाइये और इसको पास में जो नदी है उसमे फेक दीजिये। वह व्यक्ति उस पोटली को उठाता है और नदी किनारे पहुँचता है। वह मोहरे उस व्यक्ति को प्रिय थी इसलिए वह सोचता है की

इतनी सारी मोहरो को एक साथ डालने से अच्छा है की मै इन मोहरो को एक एक करके नदी में डालू। फिर वो पोटली को खोलता है और एक एक करके उन मोहरो को नदी में डालने लगता है। मोहरे बहुत ज्यादा होती है जिसके कारण उसे बहुत समय लग जाता है।

अगर आप समस्याओ में उलझे है तो कैसे बचे – गौतम बुद्ध

संत बहुत देर इंतजार करने के बाद नदी किनारे पहुंचकर उस व्यक्ति से कहते है की ये तुम क्या कर रहे हो। वह व्यक्ति संत से कहता है की आपने ही तो कहा है की इन सब मोहरो को नदी में डाल दो। इसलिए इन सब मै नदी में डाल रहा हूँ।

वे संत उस व्यक्ति से कहते है की जिस तरह से तुम इन मोहरो को नदी में डाल रहे हो उससे दो बातें निकलकर सामने आती है। पहली तो ये की तुम्हे इन मोहरो से बहुत लगाव है जिसके कारण तुम इन्हे नदी में एक एक कर डाल रहे हो।

और दूसरी बात ये है जो मंज़िल तुम केवल एक कदम में पूरी कर सकते थे उस मंज़िल को पूरा करने में तुमने हज़ारों कदम लगा दिए है। मेरे कहने का तात्पर्य ये है की जिस काम को तुम एक बार में कर सकते थे उस काम को करने में तुमने बहुत ज्यादा समय लगा दिया।

बुद्ध अपनी कहानी ख़त्म करने के बाद उस युवक से कहते है की अगर तुम सच में थक चुके हो तो अपनी बुरी आदतों से तो तुम इन्हे छोड़ सकते हो। पर इसके लिए आने वाले कल का इंतजार मत करो। अभी से इन्हे छोड़ दो। और अपने जीवन में एक नया बदलाव लेकर आओ।

आज की हमारी ये कहानी कैसी लगी कमेंट बॉक्स में जरूर लिखना। अगर आप इस तरह की कहानी वीडियो के रूप में देखना चाहते हो तो हमारे यूट्यूब चैनल को भी सब्सक्राइब कर सकते हो। यूट्यूब चैनल लिंक निचे दिया है

यूट्यूब चैनल लिंक – https://www.youtube.com/channel/UCNc4L80YvvkvqS2XEmC9aTQ

फेसबुक पेज लिंक –  https://www.facebook.com/Gautambuddhaindia/

Leave a Comment